Wednesday, December 14, 2016

फेमिना पत्रिका की 2016 की पठनीय पुस्तकों की सूची में 'काँच के शामियाने '

'फेमिना' पत्रिका के अगस्त अंक में हर विधा की कुछ किताबों का जिक्र किया गया है और इन्हें अवश्य पढ़ने की सलाह दी गई है ।इस सूची में 'काँच के शामियाने' को देखकर अपार ख़ुशी हुई ।शुक्रिया फेमिना :)






No comments:

Post a Comment

काँच के शामियाने पर 'उषा भातले जी' एवं 'अश्विनी कुमार लहरी' की टिप्पणी

उषा भातले जी ने किताब भले ही देर से मंगवाई पर मिलते ही पढ़ डाली और पढ़ते ही प्रतिक्रिया भी दे दी। आपने बड़ी सटीक और समीक्षा की है,बहुत बहुत...